Wednesday, May 22, 2024

World Wetlands Day: प्रकृति संरक्षण के बारे में भारत से सीखे दुनिया- डॉ. मुसोंदा मुम्बा

भोपाल: विश्व वेटलैंड्स दिवस(World Wetlands Day) 2024 का मुख्य कार्यक्रम इंदौर के रामसर साइट सिरपुर में शुक्रवार को आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। कार्यक्रम में पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के राज्य मंत्री अश्विनी चौबे और रामसर सचिवालय की महासचिव डॉ. मुसोंदा मुम्बा विशिष्ट अतिथि रहे।

पहली बार भारत आईं डॉ. मुसोंदा मुम्बा

रामसर सचिवालय की महासचिव डॉ. मुसोंदा मुम्बा ने कहा की वह पहली बार भारत आईं हैं। इसके साथ ही इंदौर आने का मौका मिला। इंदौर आकर मुझे बहुत खुशी हो रही है। यह बहुत प्यारा शहर है। भारत से दुनिया को सीखना चाहिए कि कैसे प्रकृति संरक्षण का किया जाता है? जल्द ही इंदौर वेटलैंड सिटी बनेगा। इंदौर वेटलैंड प्रोजेक्ट के तहत बहुत अच्छा काम कर रहा है।

दुनिया में सिर्फ भारत को माता कहते हैं- सीएम मोहन

सभा को संबोधित करते हुए सीएम मोहन ने कहा कि दुनिया में 200 से ज्यादा देश है लेकिन सिर्फ भारत ही वह देश है जिसको माता कहा जाता है। प्रकृति संरक्षण की शुरुआत हमारे धर्म से ही हो जाती है। समय के साथ हुए बदलावों ने हमारे तालाबों और जल स्रोतों को दूषित किया लेकिन अब नहीं जागे तो देर हो जाएगी। वहीं, नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा की सिरपुर तालाब को जनसहयोग से संवारना चाहिए। हमारे धर्म में ही नदी, तालाबों और प्रकृति का विशेष महत्व बताया गया है।

02 फरवरी को विश्व वेटलैण्ड्स दिवस

बता दें, प्रतिवर्ष 02 फरवरी को विश्व वेटलैण्ड्स दिवस (World Wetlands Day) मनाया जाता है। इस दिन 1971 में ईरान के रामसर शहर में तालाबों को बचाने के लिए अंतर्राष्ट्रीय संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। उक्त दिवस को उत्साह और तालाबों के प्रति जागृति लाने के उद्देश्य से ये दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष विश्व वेटलैण्ड्स दिवस की थीम ‘‘Wetlands and Human Wellbeing’’है । इसका मुख्य उद्देश्य इस बात को रेखांकित करना है कि तालाबों का संरक्षण और मनुष्यों का कल्याण दोनों का अंर्तसंबंध है और ये दोनों परस्पर रूप से एक दूसरे पर निर्भर हैं।

Latest news
Related news