Wednesday, May 22, 2024

MP News: युद्ध के चलते इसराइल में फंसी एमपी की बेटी , माता-पिता ने लगाई भारत सरकार से मदद की गुहार

भोपाल। इसराइल में 7 अक्टूबर को अचानक से युद्ध छिड़ गया था। जिसके चलते टीकमगढ़ जिले के शिवधाम कुंडेश्वर की बेटी स्वाति हॉस्टल में ही फंस गई है।

युद्ध के चलते इसराइल में फंसी स्वाति

मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के शिवधाम कुंडेश्वर की बेटी स्वाति सिरोटिया के इसराइल में फंस होने की खबर आई है। बताया जा रहा है कि वह युद्ध के चलते इसराइल में ही हैं। इस मामले में बेटी के साथ-साथ मां और पिता ने भी भारत सरकार से मदद की गुहार लगाई है। इस बीच चिंता की बात यह है कि 30 अक्टूबर को स्वाति का वीजा समाप्त हो रहा है, इस वजह से भी वह काफी डरी हुई हैं।

स्वाति ने वीडियो कॉल पर बताया अपना हाल

बताया गया है कि टीकमगढ़ जिला मुख्यालय के पास ही स्थित धार्मिक नगरी शिव धाम कुंडेश्वर की बेटी स्वाति सिरोटिया इजराइल में फंसकर रह गई हैं। वह साल 2020 में एग्रीकल्चर विषय से एमएससी करने के लिए इजराइल गई थी। इसी महीने वह अपनी डिग्री कम्प्लीट करके घर वापस घर लौटने वाली थी, लेकिन इसराइल और हमास के बीच शुरू हुए युद्ध के चलते वह हॉस्टल में ही फंसकर रह गई हैं। स्वाति के परिजनों ने बताया कि 30 अक्टूबर को स्वाति का वीजा समाप्त हो जाएगा। वहीं स्वाति के पिता राजेंद्र ने बताया कि 7 अक्टूबर को अचानक हमास और इजराइल के बीच युद्ध छिड़ने से उनकी बेटी हॉस्टल में ही फंसकर रह गई है। पिता ने बताया कि मंगलवार सुबह स्वाति से फोन पर वीडियो कॉल द्वारा बात हुई थी। जिसमें उसने बताया था कि फिलहाल वह हॉस्टल में सुरक्षित है। वहां उसे सायरन बजते ही डेढ़ मिनट के अंदर बंकर में जाना पड़ता है। हॉस्टल में जो कुछ खाने-पीने का इंतजाम है, उससे ही काम चलना पड़ रहा है।

इंडियन एंबेसी से कोई मदद नहीं

इस दौरान बताया जा रहा है कि स्वाति ने वीडियो कॉल के द्वारा अपने पिता को बताया है कि फिलहाल उन्हें इंडियन एंबेसी से कोई मदद नहीं मिली है। यहीं नहींं 14 तारीख तक के लिए सभी फ्लाइट्स भी बंद कर दी गई हैं। यहां सिर्फ इथियोपियन एयरलाइन की फ्लाइट ऑपरेट हो रही है,जो इथोपिया की राजधानी आदिस अबाबा जा रही है। इसके अलावा स्वाति ने यह भी बताया कि उसकी यूनिवर्सिटी में लगभग 30 से 35 इंडियन स्टूडेंट हैं। यह सभी लोग भारत सरकार की तरफ से मदद मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

पिता ने लगाई मदद की गुहार

बताया जा रहा है कि बेटी को सुरक्षित भारत लाने के लिए स्वाति के पिता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है। स्वाति के परिजनों ने देश के एक ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर को सौंपते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार से अपील की है कि उनकी बच्ची को सकुशल इजराइल से भारत लाया जाए। वहीं, इस पूरे मामले में डिप्टी कलेक्टर आर के तोमर ने स्वाति के पिता को आश्वासन देते हुए कहा कि उनके द्वारा दिये गये पत्र को आवश्यक कार्यवाही हेतु भारत सरकार तक पहुंचाया जाएगा।

Latest news
Related news